फिल्म समीक्षा- ‘क्लाइमेट चेंज’ के मुद्दे पर झकझोरेगी आपको ‘कड़वी हवा’

अरे चिंटू, इस शुक्रवार कौन सी फिल्म रिलीज हुई है, बताओ तो जरा। बॉलीवुड में चल रहे एक्शन और रोमांस के दौर में निर्देशक नील माधव पंडा का ध्यान भटक के देश की प्रदूषित हवा में जा बसा है, इसीलिए उन्होंने एक ऐसी फिल्म बनाई जो क्लाइमेट चेंज पर बनी है।

कहानी

फिल्म की कहानी में संजय मिश्रा एक अंधे बूढ़े के किरदार में नजर आ रहे हैं, जो कि बुंदेलखंड के निवासी हैं जहां सूखा पड़ा है। कहानी में बूढ़े का बेटा खेती के लिए कर्ज लेता है, और सूखा पड़ने के कारण फसल ही नहीं हुई। अब बूढ़े को कर्ज चुकाने की चिंता खाये जा रही है। बुंदेलखंड में कई किसान हैं जो कर्ज के चलते आत्महत्या कर रहे हैं, बूढ़े को ये डर है कि कहीं उसका बेटा भी आत्महत्या न कर ले।कहानी में दूसरा मुख्य किरदार रणवीर शौरी अदा कर रहे हैं। रणवीर ओडिशा के तटीय इलाके में रहते हैं और एक रिकवरी एजेंट का काम करते हैं, और बूढ़े से कर्जा वसूल करने बुंदेलखंड आता है। दरअसल, ग्लोबल वार्मिंग बढ़ने के कारण समुद्र का जलस्तर बढ़ रहा है और रणवीर अपने परिवार को लेकर खौफ में हैं और अपने परिवार को वहां से शिफ्ट करना चाहते हैं। शुरु में तो वो अंधे बूढ़े पर बिल्कुल भी तरस नहीं खाते और कर्जा वापस देने की बात करते हैं पर बाद में दोनों एक दूसरे की परेशानी समझ कर जलवायु परिवर्तन के खतरों से लड़ते हैं।

स्क्रिप्ट और डायरेक्शन

फिल्म का निर्देशन नील माधव पंडा ने किया है। फिल्म में जलवायु परिवर्तन के मुद्दे को फिल्माया गया है। फिल्म की निर्देशन और कास्टिंग अच्छी की गई है।

अभिनय

इस फिल्म में संजय मिश्रा एक अंधे बूढ़े के किरदार में नजर आए हैं और कहानी में रणवीर शौरी एक रिकवरी एजेंट के रुप में शामिल हैं, जो कि दर्शकों को एक नए संघर्ष के सफर पर ले जाएंगे।दोनों की एक्टिंग की बात की जाए तो दोनों हर बार की तरह अपने किरदार को जीवित करने में कामयाब साबित होते हैं।

गीतसंगीत

फिल्म में गुलजार साहब की एक नज्म डाली गई है, जिसके बोल दर्शकों को काफी पसंद आएंगे, साथ ही आपको बहुत कुछ सोचने पर भी मजबूर कर देगें।

देखें या न देखें

लीक से हटकर फिल्म देखने वालों के लिए ये फिल्म बहुत ही बेहतरीन है। संजय शर्मा और रणवीर शौरी ने फिल्म में अपने किरदार बहुत बेहतरीन निभाया है। फिल्म की कहानी या किरदार कहीं भी दर्शकों को बेवजह नहीं लगेंगे।

फिल्मकड़वी हवा

रेटिंग– 3.5 स्टार

डायरेक्टरनील माधव पंडा

कलाकारसंजय मिश्रा, रणवीर शौरी, तिलोत्तमा शोम

शैलीसीरियस ड्रामा

गीतसंगीतगुलजार

अवधि1.35 घंटा

नीचे दिए बटन को क्लिक करके इस पोस्ट को मित्रों में शेयर करें