फिल्म समीक्षा- बाप-बेटी के खूबसूरत रिश्तों की कहानी है ‘भूमि’

अरे चिंटू…आज फ्राइडे पर संजय दत्त की कमबैक फिल्म ‘भूमि’ रिलीज हो रही है। जरा बताओ तो फिल्म की कहानी कैसी है। क्या यह संजय दत्त के लिए शानदार वापसी वाली फिल्म होगी।जरा जल्दी-जल्दी बताओ।

कहानी

फिल्म भूमि की कहानी पिता और बेटी के रिश्तों पर आधारित है। फिल्म में पिता बने संजय दत्त एक मोची का किरदार निभा रहे हैं जिसका नाम है अरुण सचदेवा। जिनकी एक बेटी है जिसका नाम है भूमि यानि कि अदिति राव हैदरी। दोनों की जिंदगी अच्छी चल रही होती है। तब तक धौलपुर के एक गैंग की नजर भूमि पर पड़ जाती है। इस गैंग का लीडर यानि कि मुख्य विलेन है धौली यानि की शरद केलकर। धौली अपने तीन लोगों के साथ भूमि के साथ रेप करता है। जिसके बाद भूमि और अरूण की जिंदगी काफी बेकार सी हो जाती है। लोग परेशान करने लगते हैं। लेकिन इन सबसे संभलते हुए पिता और बेटी अपने इरादे मजबूत करते हैं और धौली और उसके साथी से बदला लेते हैं। फिल्म की कहानी में कोई नयापन नहीं है। फिल्म आपको 90 के दशक के फिल्मों की याद दिलाएगी।

स्क्रिप्ट और डायरेक्शन

फिल्म की कहानी लिखी है संदीप सिंह ने और फिल्म को डायरेक्ट किया है ओमंग कुमार ने। ओमंग कुमार ने इससे पहले मैरी कॉम, सरबजीत और इश्क विश्क जैसी हिट फिल्में बनाई हैं। इस फिल्म की कहानी के बारे में पहले ही बता चुका हूं कि इसे देख कर आपको 90 के दशक की फिल्म याद आएगी। डायरेक्शन जबरदस्त है, हर बार की तरह ओमंग कुमार ने इस बार भी कमाल किया है। फिल्म के कई डॉयलॉग बहुत ही शानदार हैं। एक जगह शरद केलकर यानि कि धौली बोलता है ‘हमारे धौलपुर में कहावत है सेव द वॉटर, अब आगरा में फेमस होगा सेव द डॉटर’ । ऐसे ही और भी बहुत सारे डॉयलॉग दर्शकों को काफी प्रभावित करते हैं।

अभिनय

फिल्म में तीन किरदार मुख्य हैं भूमि, अरूण सचदेवा और धौली जिन्हें निभाया है अदिति राव हैदरी, संजय दत्त और शरद केलकर ने। तीनों ही मंझे हुए कलाकार हैं। जब भी स्क्रीन पर आते हैं तो अपने जबरदस्त अभिनय से लोगों की दिल जीत लेते हैं। फिल्म ‘पिता’ के बाद एक बार फिर संजय दत्त एक बेटी के पिता बने हैं। और वो पिता के रोल में भी उतने ही नेचुरल लग रहे हैं जितना गैंगस्टर के रोल में लगा करते थे।

गीत-संगीत

फिल्म में म्यूजिक दिया है सचिन-जिगर ने और बैकग्राउंड म्यूजिक है इस्माइल दरबार का । फिल्म का गाना ‘लग जा गले..’ और ‘ट्रीपी ट्रीपी…’ काफी हिट साबित हो रहे हैं। और लोगों को पसंद आ रहे हैं। इसके गानों को आप फिल्म के इतर भी सुनना चाहेंगे। फिल्म के बैकग्राउंड म्यूजिक की बात करें तो बेहतरीन है।

देखें या न देखें

भूमि संजय दत्त की कमबैक मूवी है। फिल्म को ओमंग कुमार ने डायरेक्ट किया है। तो फिल्म को आप देख सकते हैं। फिल्म में बाप-बेटी के खूबसरत रिश्तों को दिखाया गया है। तो आप को अगर ड्रामा फिल्में जैसे की 90 की दशक की फिल्में पसंद हैं तो आप को इसे जरूर देखना चाहिए। न देखने की सिर्फ एक वजह है अगर आप गंभीर विषयों पर बनी फिल्म को नहीं देखना पसंद करते हों

फिल्म– भूमि

रेटिंग– 3 स्टार

कलाकार– अदिति राव हैदरी, संजय दत्त और शरद केलकर

डायरेक्टर– ओमंग कुमार

संगीत– सचिन-जिगर

अवधि– 2.15 घंटा

शैली– ड्रामा

नीचे दिए बटन को क्लिक करके इस पोस्ट को मित्रों में शेयर करें