फीकी कर दी ‘खान्स की दुकान’, वो है बॉलीवुड का ‘आयुष्मान’ !

14 सितंबर को चंडीगढ़ में जन्मे आयुष्मान खुराना आज किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं। लेकिन हमेशा उनके साथ ऐसा नहीं था। आयुष्मान की मेहनत और किस्मत ने उन्हें बॉलीवुड का ‘विक्की डोनर’ बनाया तो बॉलीवुड ने ही उन्हें हरिद्वार का ‘प्रेम प्रकाश तिवारी’ बनाया। आयुष्मान आज बड़े-बड़े हीरो को टक्कर दे रहे हैं और लीक से हटकर बन रही फिल्मों में अपनी जहरदस्त एक्टिंग से दर्शकों के दिलों पर राज कर रहे हें। अरे चिंटू आपको चंडीगढ़ के मुंडे की आयुष्मान खुराना बनने की कहानी बताने जा रहा है।

आयुष्मान खुराना
आयुष्मान खुराना

महज 17 साल की उम्र में आय़ुष्मान ने टीवी पर अपने करियर की शुरूआत की। और टीवी पर कई रियलिटी शो जीते। इसके बाद आयुष्मान ने बिग एफएम दिल्ली में आरजे की जॉब की और सबसे कम उम्र में भारत निर्माण अवॉर्ड जीता। फिर आयुष्मान वीजे बने और एमटीवी पर कई सारे शो किए। फिर इन्होंने कई सारे रियलिटी शो को होस्ट भी किया।

इस दौरान साल 2012 में आयुष्मान को फिल्म मिली ‘विक्की डोनर’। फिल्म स्पर्म डोनेटर पर बनी थी। और यह फिल्म क्रिटिकली और कमर्सियली काफी हिट साबित हुई। फिल्म का एक गाना ‘पानी द रंग..’, जिसे रोचक कोहली के साथ खुद आयुष्मान ने कंपोज किया था और गाया भी था, काफी हिट साबित हुई। और इस साल के सारे डेब्यू फिल्म फेयर अवॉर्ड आयुष्मान ने अपने नाम किए। इसके बाद आयुष्मान ने नौटंकी शाला, बेवकूफियां, हवाईजादा जैसी मूवी की जो कि फ्लॉप रहीं लेकिन आयुष्मान की ऐक्टिंग की सभी तारीफ की।

इसके बाद यशराज बैनर तले फिल्म आई ‘दम लगा के हइशा’। फिल्म में उनके साथ भूमि पेडनेकर थी। और यह फिल्म भी बहुत बड़ी हिट साबित हुई। इसके बाद तो हर कोई आयुष्मान के साथ काम करना चाह रहा है।

उन्होंने परिणिती चोपड़ा के साथ ‘मेरी प्यारी बिंदू’, कृति सैनॉन के साथ ‘बरेली की बर्फी’ और भूमि पेडनेकर के साथ एक बार फिर ‘शुभ मंगल सावधान’ की। इनमें से बरेली की बर्फी और शुभ मंगल सावधान हिट साबित हुई।

आयुष्मान की आने वाली फिल्म ‘शूट द पिआनो प्लेयर’ की शूटिंग जारी है।

नीचे दिए बटन को क्लिक करके इस पोस्ट को मित्रों में शेयर करें